Dr. Akhtar Khatri

मत करना

सिला ना मिले तो गिला मत करना,
ख़ुशी से किसी की जला मत करना ।

मंज़िल यह रास्ता ही है, समझ लो,
आंखे बंद करके चला मत करना ।

मुक़द्दर में लिखा, ना छिनेगा कोई,
ज़रा देरी से मिले, डरा मत करना ।

तुमसे मिले और जो मुस्कुराये नहीं,
उन्हें तुम बार बार मिला मत करना ।

ऊंच नीच तरीका है उसका, ‘अख़्तर’
ज़िन्दगी से तुम लड़ा मत करना ।

#अख़्तर_खत्री

Advertisements

Categories: Dr. Akhtar Khatri

Tagged as: ,

Leave a Reply